जेब-पे को मिला $1 मिलियन का निवेशन

ZebPay (जेब-पे), भारत का एक प्रमुख बिटकॉइन मोबाइल वॉलेट और विनिमय कंपनी ने सीरीज (Series A ) वित्त पोषण में $ 1 मिलियन हासिल करने का आज घोषणा किया है। कंपनी ने आज का प्रेस रिलीज़ में या वित्त पोषण को तीन भारतीय निवेशकों का समूह से हासिल करने के बारे में जानकारी दिया है । क्लैरिस ग्रुप से अर्जुन हांडा, जिंदल वर्ल्डवाइड से अमित जिंदल और ट्रायंगल इंजीनियरिंग से नगेंदर चौधरी वह तीन निवेशक है जिन्होंने इस वित्त पोषण में हिस्सा लिया था ।

जेब-पे इस धन को अपना ग्राहक सेवा और उत्पाद की पेशकश में सुधार लाने के लिए इस्तेमाल करेगा । जेब-पे , भारत के पहले बिटकॉइन कंपनियों में से एक है । अब तक जेब-पे मंच पर 25000 से ज़्यादा उपयोगकर्ताओं है और जेब-पे इसे अगले साल तक 100000 उपयोगकर्ताओं को पहुँचने का निशाना रखा है।

जेब-पे पर ग्राहकों बिटकॉइन बेचने और ख़रीदने के अलावा गिफ्ट कार्डस भी खरीद सकते है । जेब पे के ज़रिये लोग अपने मोबाइल फ़ोन रिचार्ज भी कर सकते है। जेब-पे जैसे मंच के ज़रिये लोग बिटकॉइन को भुगतान के लिए इस्तेमाल कर सकते है ।


Subscribe to our newsletter