26-07-2017
12:46 pm
=

CRYPTOCURRENCY ANALYSIS

LATEST NEWS

डीक्रेड् (Decred), बिटकॉइन से बेहतर डिजिटल करेंसी।

decred

Decred , एक नया वैकल्पिक डिजिटल करेंसी को btcsuite के साथ जुड़े हुए बिटकॉइन डेवलपर्स का एक समूह अभी बनाने में लगे हुए है। यह डिजिटल करेंसी बिटकॉइन से जुड़े हुए परियोजना प्रशासन और विकास के वित्तपोषण सम्बंदित मुद्दों को सुधारने का अपेक्षा करता है।

बिटकॉइन को विकेंद्रीकृत डिजिटल करेंसी माना जाता है, पर असल में बिटकॉइन अभी विकेंद्रीकृतता से केंद्रीकृत बना जा है। इसके वजह है वह थोड़े बहुत चुनेहुए लोग जो बिटकॉइन नेटवर्क में बदलावों का सहमत देने या ना देने का अधिकार रखते है। जब तक सभी प्रतिभागियों को किसी भी विषय में बागधारी नहीं मिलेगा तब तक बिटकॉइन को विकेंद्रीकृत नहीं कहा जा सकता है।

बिटकॉइन के विकास कार्य के लिए समुदाय से सीधे वित्त पोषण तंत्र और रास्ते की कमी के कारण डेवलपर्स और बिटकॉइन समुदाय के प्रतिनिधियों के बीच में हितों का टकराव अक्सर होता है । बिटकॉइन कोर सदसयों के निर्णयों से डेवलपर्स या बिटकॉइन के विस्तृत समुदाय बहुत से बार सहमत नहीं है, पर इस विचार-विभिन्नता को इस व्यवस्था में सुलझाना असंभव है । इसीलिए Decred को उसके डेवलपर्स बिटकॉइन से अलग बनाने के काम में लगे हुए है। बिटकॉइन में जो भी कमिया है, Decred में उन सब कमियों का सुलझावों को एकीकृत किया गया है ।

Decred के वेबसाइट पर सुविधाओं, प्रौद्योगिकी और सुरक्षा उपायों की सूची उपलब्द है । उसके विशेषताओं में बलके – 256 (Blake – 256 ) hashing अल्गोरिथम , proof of work और proof of stake टेक्नोलॉजी शामिल है । इस तरह बिटकॉइन से उन्नत क्रिप्टो करेंसी बनाने में Decred लगा हुआ है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER

Read previous post:
रिजर्व बैंक
भारतीय रिजर्व बैंक का विचार, ब्लॉकचैन पर|

भारतीय बिटकॉइन (bitcoin) उद्योग के लिए एक कुश खबरी, भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने कुछ दिन पहले...

Close